shayari >  miss you

अब तो सजाएं बन चुकीं है गुजरे हुए वक्त की यादें ,
ना जानें क्यों मतलब के लिए मेहरबान होते है लोग

Copy Text